A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Trying to get property 'primary_font' of non-object

Filename: models/Settings_model.php

Line Number: 345

Backtrace:

File: /home/371803.cloudwaysapps.com/vktemsbadr/public_html/application/models/Settings_model.php
Line: 345
Function: _error_handler

File: /home/371803.cloudwaysapps.com/vktemsbadr/public_html/application/core/Core_Controller.php
Line: 69
Function: get_selected_fonts

File: /home/371803.cloudwaysapps.com/vktemsbadr/public_html/application/core/Core_Controller.php
Line: 115
Function: __construct

File: /home/371803.cloudwaysapps.com/vktemsbadr/public_html/application/controllers/Home_controller.php
Line: 8
Function: __construct

File: /home/371803.cloudwaysapps.com/vktemsbadr/public_html/index.php
Line: 332
Function: require_once

Immoral Activities Happening In The Fort Of Islam Nagar -

Search

Immoral Activities Happening In The Fort Of Islam Nagar

Immoral Activities Happening  In The Fort Of Islam Nagar

इस्लाम नगर स्थित किला भले ही अपनी शान-ओ-शौकत की कहानी आज भी कह रहा हो, लेकिन मप्र पुरातत्व विभाग की लापरवाही और अनदेखी ने इसे एक अय्याशी का अड्‌डा बनाकर छोड़ दिया है। किले में अंदर जाते ही आपको नव युगल कोने ढूंढते नजर आ जाएंगे। जानकारी के अनुसार इस किले में रोजाना 500 से 700 लोग घूमने आते हैं, जिनमें से ज्यादातर प्रेमी युगल ही होते हैं। 

कहने को तो यहां पुरातत्व विभाग के आधा दर्जन से ज्यादा गार्ड तैनात हैं, लेकिन सुरक्षा कर्मियों की आंखों के सामने ही जारी रहने वाली काम-क्रीड़ा उनको नहीं दिखती। विभाग की उदासीनता के कारण इस जगह पर कभी भी बड़ी वारदात होने की आशंका हमेशा बनी रहती है। शायद पुरातत्व विभाग मप्र में घटित हुए हबीबगंज स्टेशन कांड और बेटमा कांड को भूल गया है। 

बिना टिकट मिल रहा किले में प्रवेश : 
परिसर में प्रवेश करने वाले युगलों को टिकट नहीं दी जाती, बल्कि उन्हें सीधे ही किले परिसर में स्थित महलों में प्रवेश दे दिया जाता है। जिसके बाद ये युगल मनमर्जी करने के लिए पूरी तरह से आजाद हो जाते हैं। इस परिसर में दो मुख्य महल मौजूद हैं, जिनकी सुरक्षा के लिए आधा दर्जन सुरक्षाकर्मी नियुक्त हैं, लेकिन अक्सर युगल उन्हीं की आंखों के सामने कामक्रीड़ा करते रहते हैं। खास बात यह है कि परिसर में घूने आने वाले युगलों में कुछ नाबालिग युगल भी थे। 


हमारे सूत्रों ने इस दौरान हमें जानकारी देते हुए बताया कि कई बार किला बंद होने के बाद भी शाम को शराबियों, जुआखोराें और अय्याशों के लिए इसके द्वार खोल दिए जाते हैं। जिसकी शिकायत कई बार स्थानीय थाने में भी की गई है, लेकिन समस्या का समाधान नहीं हो सका है।

यह भी पढ़ें : भोपाल: रैंगिंग के मामलें में चार लड़कियों को हुई 5 साल की सजा, पढिए अनिता शर्मा आत्‍महत्‍या केस

रानी महल की सुरक्षा के लिए केवल एक गार्ड : 
मंगलवार को जब Agnito Today ने यहां पहुंचकर समीक्षा की तो मुख्य द्वार पर मौजूद टिकट खिड़की पर किसी तरह की पूछताछ नहीं हुई। संवाददाता गाड़ी लेकर सीधे ही पार्किंग स्थल पर पहुंच गया। इस दौरान किले परिसर में स्थित रानी महल में पहुंचने के बाद मुख्य द्वार पर केवल एक गार्ड बैठा हुआ दिखा।


अंदर पहुंचने के बाद चारों ओर सन्नाटा पसरा था। अंदर तीन प्रेमी युगल आपत्तिजनक स्थिति में थे। संवाददाता को देखकर एक एक कर सब महल से बाहर निकलने लगे। हालांकि इसी दौरान रानी महल के मुख्य द्वार पर बैठा गार्ड भी अंदर आ गया। जिसके बाद सारे युगल बाहर निकल गए।  

किले के गार्डन में चलता है खुलेआम खेल : 
रानी महल के पास स्थित दो गार्डन में कई प्रेमी युगल एक दूसरे कुछ कुछ दूरी पर बैठकर मौज मस्ती करते हुए दिखे। इस दौरान गुजरात से घूमने आया एक परिवार अपने बच्चों के सामने नजरें बचाता हुआ गार्डन से सीधे चमन महल की तरफ कूच कर गया। हालांकि इस दौरान गार्डन परिसर में एक सुरक्षाकर्मी मौजूद रहता है, लेकिन युगल उसके सामने ही मौज मस्ती में लगे रहे। 


वहीं इसके पास एक अन्य महल स्थित है जिसे चमन महल के नाम से जाना जाता है। इस महल में पहुंचने के लिए 12 दरवाजों के एक कमरे से होकर ही पहुंचा जाता है। इस कमरे के सामने स्थित सीढ़ियों पर रानी महल में आपत्तिजनक स्थिति में पकड़ाए प्रेमी युगल फिर से आलिंगन करते हुए दिखे। 

यह भी पढ़ें : ट्रक ड्राइवर की ऐसी लापरवाही डाल सकती है हजारों लोगों की जान खतरे में

चमन महल में कम थे युगल : 
आगे चलकर चमन महल स्थित है। इसके बीचों बीच एक गार्ड हमेशा मौजूद रहता है। इस दौरान हमें यहां दो युगल चहल कदमी करते दिखे। हालांकि इस दौरान स्थिति पूरी तरह सामान्य थी। दालान से होकर जैसे ही महल के अंतिम भाग में पहुंचे। गार्डन में मौजूद परिवार यहां सामान्य स्थिति में हंसी मजाक करते हुए दिखा।

राेकेंगे अनैतिक गतिविधियां : 
इस्लाम नगर का किला पुरातत्व विभाग के संरक्षण में है। यदि वहां इस तरह की गतिविधियां जारी हैं, तो इस मामले पर कड़ा एक्शन लिया जाएगा। बिना टिकट के प्रवेश दिए जाना भी गलत है। इसके लिए पुरातत्व विभाग को सूचित करेंगे। किसी तरह की बड़ी घटना न हो इसके लिए हर संभव कदम उठाएंगे।
-विजय कुमार खत्री, एसपी (नार्थ)

About author