A PHP Error was encountered

Severity: Notice

Message: Trying to get property 'primary_font' of non-object

Filename: models/Settings_model.php

Line Number: 345

Backtrace:

File: /home/371803.cloudwaysapps.com/vktemsbadr/public_html/application/models/Settings_model.php
Line: 345
Function: _error_handler

File: /home/371803.cloudwaysapps.com/vktemsbadr/public_html/application/core/Core_Controller.php
Line: 69
Function: get_selected_fonts

File: /home/371803.cloudwaysapps.com/vktemsbadr/public_html/application/core/Core_Controller.php
Line: 115
Function: __construct

File: /home/371803.cloudwaysapps.com/vktemsbadr/public_html/application/controllers/Home_controller.php
Line: 8
Function: __construct

File: /home/371803.cloudwaysapps.com/vktemsbadr/public_html/index.php
Line: 332
Function: require_once

LPG cylinder filled trucks stand in the residential area -
login register

Search

LPG cylinder filled trucks stand in the residential area

LPG cylinder filled trucks stand in the residential area

करोंद चौराहे से जेल रोड जाने वाली रोड खड़े रहने वाले ट्रक आम लोगों की जान के लिए खतरा बने हुए हैं। दरअसल इस सड़क पर गुड्स कैरियर गाड़ियों के अलावा बड़ी संख्या में एलपीजी गैस सिलेंडर से भरी गाड़ियां भी खड़ी रहती हैं। गुरुवार को हुए एक हादसे के बाद रहवासी इन गाड़ियों को यहां से हटवाने के लिए जिला प्रशासन के अधिकारियों से शिकायत करने की बात कर रहे है। 

दरअसल गत दिवस यहां पर खाली खड़े एक गुड्स कैरियर ट्रक में हुई अचानक स्पार्किंग के बाद इसका कैबिन धू-धू कर जलने लगा। जिसके बाद इसकी जानकारी स्थानीय लोगों ने फायर ब्रिगेड को दी। मौके पर पहुंचे दमकल कर्मियों ने सूझबूझ दिखाते हुए बड़ा हादसा होने से रोक लिया। हालांकि इस दौरान केबिन में बैठा हेल्पर संतोष कुमार लपटों में झुलस गया। उसके बाल और घुटने आग के कारण जल गए हैं।

सिलेंडर से भरी गाड़ी छोड़ आराम फरमाते हैं ड्राइवर : 
स्थानीय रहवासी अभिषेक श्रीवास्तव बताते हैं कि इस सड़क पर कई वर्षों से एलपीजी सिलेंडर से भरी गाड़ियां खड़ी हो रही है। असल में इन गाड़ियों के ड्राइवर आसपास ही रहते हैं और कई बार गैस सिलेंडर से भरी गाड़ियों को लापरवाही पूर्वक खुले में छोड़कर घर पर आराम करने चले जाते हैं। ऐसे में यदि हादसा होता है तो इसकी जवाबदारी तय होना चाहिए। 


इसके पहले भी वाहन टकराने के हादसे इस जगह पर हुए हैं, जिसके बाद भी लोगों ने यहां से गैस सिलेंडर से भरे ट्रक हटवाने के लोकर प्रयास किया था, लेकिन कुछ समय बाद मामला ठंडे बस्ते में चला गया। 

यह भी पढ़ें : भोपाल में कोरोना से बच गए तो हमीदिया रोड की धूल ले लेगी जान

हो सकता था बहुत बड़ा हादसा : 
ट्रक जलने के दौरान उसके आसपास एलपीजी सिलेंडर से भरे तीन ट्रक खड़े थे। ऐसे में यदि एलपीजी सिलेंडर से भरा ट्रक आग पकड़ लेता तो आम लोगों की जान खतरे में पड़ जाती। वहीं घटना के बाद से ही स्थानीय लोगों में लापरवाह ट्रक ड्राइवरों के प्रति रोष है। रहवासियों का एक दल इस संबंध में जिला प्रशासन के अधिकारियों से इसकी शिकायत करने की बात कह रहा है। लोगों के अनुसार इन सभी गाड़ियों के ड्राइवर पास स्थित बिलाल काॅलोनी में ही रहते हैं।  


स्थानीय रहवासी अजय यादव ने बताया कि इतना बड़ा हादसा होने के बाद ट्रक ड्राइवरों ने फिर से इस जगह पर वाहन खड़े करना शुरू कर दिया है। जिसके बाद मौहल्ले के लोग डरे हुए हैं। 

यह भी पढ़ें : गणतंत्र दिवस पर भी कैद रहेंगे शहीद-ए-आजम भगत सिंह

कई फिट दूर तक गिरते हैं सिलेंडर के टुकड़े : 
मौके पर मौजूद फायर फाइटर पंकज यादव ने बताया कि यदि उनकी टीम ने सूझबूझ नहीं दिखाई होती तो बहुत बड़ा हादसा हो जाता, क्योंकि यदि गलती से भी गैस सिलेंडर से भरे ट्रक में आग लग जाती। तो गैस सिलेंडर फटने के बाद उसके टुकड़े दूर दूर तक उड़ते हैं। साथ ही लोहे का टुकड़ा यदि किसी के सिर पर गिर जाए तो संबंधित व्यक्ति को गंभीर चोट लग सकती हैं। या उसकी जान भी जा सकती है। 


कई बार ये टुकड़े नुकीले भी होते हैं, जिसके कारण गहरे जख्म होने की भी संभावना होती है। पंकज के मुताबिक रहवासी क्षेत्र में ज्वलनशील पदार्थ से भरे वाहन खड़े करना ही नहीं चाहिए। ऐसे लोगों की शिकायत भी स्थानीय लोगों द्वारा की जानी चाहिए।

यह भी पढ़ें : रेत-गिट्टी सप्लायर के चंगुल में करोंद उपनगर, चालानी कार्रवाई के बाद निगम के हौसले ठंडे

About author